earn money

  • Ruhani posted an update 2 months ago

    अपने होठों पर सजाना चाहता हूँ
    आ तुझे मैं गुनगुनाना चाहता हूँ

    कोई आसू तेरे दामन पर गिराकर
    बूंद को मोती बनाना चाहता हूँ

    थक गया मैं करते करते याद तुझको
    अब तुझे मैं याद आना चाहता हूँ

    छा रहा हैं सारी बस्ती में अंधेरा
    रोशनी को घर जलाना चाहता हूँ

  • Ruhani posted an update 2 months ago

    तरस गए थोड़ी सी वफ़ा के लिए,
    इश्क न करेगे खुदा के लिए,
    क्योकि जब भी लगती है इश्क की अदालत,
    हम ही चुने जाते हैं सजा के लिए …….

  • Ruhani posted an update 2 months ago

    किसी की जिंदगी सिर्फ दो वजह से बदलती है,
    एक कोई बहुत खास इंसान उसकी जिंदगी में आ जाये,
    दूसरा कोई बहुत खास इंसान उसकी जिंदगी से चला जाये।

  • Ruhani posted an update 2 months ago

    न जिद है न कोई गुरूर है हमे,
    बस तुम्हे पाने का सुरूर है हमे,
    इश्क गुनाह है तो गलती की हमने,
    सजा जो भी हो मंजूर है हमे।

  • Ruhani posted an update 2 months ago

    माना की तुम जीते हो ज़माने के लिये,
    एक बार जी के तो देखो हमारे लिये,
    दिल की क्या औकात आपके सामने,
    हम तो जान भी दे देंगे आपको पाने के लिये |

  • Ruhani posted an update 2 months ago

    ना झुकने का शौक है ,ना झुकाने का शौक है!
    कुछ एहसास दिल से जुड़े है ,बस उन्हे निभाने का शौक है

  • Ruhani posted an update 2 months ago

    वो चाँदनी का बदन खुशबुओं का साया है,
    बहुत अजीज़ हमें है मगर पराया है,
    उसे किसी की मोहब्बत का ऐतबार नहीं,
    उसे ज़माने ने शायद बहुत सताया है।

  • Ruhani posted an update 2 months ago

    बर्बाद कर गए वो ज़िंदगी प्यार के नाम से,
    बेवफाई ही मिली हमें सिर्फ वफ़ा के नाम से,
    ज़ख़्म ही ज़ख़्म दिए उस ने दवा के नाम से,
    आसमान रो पड़ा मेरी मोहब्बत के अंजाम से। 😔

  • Ruhani posted an update 2 months ago

    हम तो आदी है सह लेंगे तेरा दिया हुआ हर जख्म ऐ दोस्त,

    लेकिन सोचते है अगर तुझे किसी ने ठुकराया तो तेरा क्या होगा।

  • Ruhani posted an update 2 months ago

    सोचा याद न करके थोड़ा तड़पाऊं उनको,
    किसी और का नाम लेकर जलाऊं उनको,
    पर चोट लगेगी उनको तो दर्द मुझको ही होगा,
    अब ये बताओ किस तरह सताऊं उनको।

  • Ruhani posted an update 2 months ago

    तेरी मोहब्बत से मुझे इनकार नहीं,
    कौन कहता है जान मुझे तुझसे प्यार नहीं,
    तुझसे वादा है साथ निभाने का,
    पर मुझे अपनी साँसों पर ऐतबार नहीं। 💞

  • Ruhani posted an update 2 months ago

    प्यार करो तो हमेशा मुस्करा के,
    किसी को धोखा ना दो अपना बना के,
    कर लो याद जब तक हम ज़िंदा है,
    फिर ना कहना कि चले गए दिल में यादें बसा कर। 💞

  • Ruhani posted an update 2 months ago

    दिल तोड़ने वाले, तुझे दिल ढूँढ रहा है
    आवाज़ दे तू कौन सी नगरी में छुपा है

    बेचैन उधर तू है, तो मजबूर इधर हम
    बैठे हैं छुपाए हुए, अश्क़ों में तेरा ग़म
    हर चोट उभर आई है, हर ज़ख़्म हरा है

    तू हम को जो मिल जाए तो हाल अपना सुनाएं
    ख़ुद रोएं कभी और कभी तुझे रुलाएं
    वो दाग़ दिखाएं जो हमें तूने दिया है

  • Ruhani posted an update 2 months ago

    बेताब सा रहते हैं तेरी याद में अक्सर,
    रात भर नहीं सोते हैं तेरी याद में अक्सर,
    जिस्म में दर्द का बहाना बना के,
    हम टूट के रोते हैं तेरी याद में अक्सर। 💞 💕

  • Ruhani posted an update 2 months ago

    इश्क का जिसको ख्वाब आ जाता है,
    समझो उसका वक़्त खराब आ जाता है,
    महबूब आये या न आये,
    पर तारे गिनने का तो हिसाब आ ही जाता है। 💫✨

  • Ruhani posted an update 2 months ago

    दिल-ए-नादाँ तुझे हुआ क्या है, आखिर इस दर्द की दवा क्या है,
    हमको उनसे वफ़ा की है उम्मीद, जो नहीं जानते वफ़ा क्या है

  • Ruhani posted an update 2 months ago

    दिल तोड़ने वाले, तुझे दिल ढूँढ रहा है
    आवाज़ दे तू कौन सी नगरी में छुपा है

    बेचैन उधर तू है, तो मजबूर इधर हम
    बैठे हैं छुपाए हुए, अश्क़ों में तेरा ग़म
    हर चोट उभर आई है, हर ज़ख़्म हरा है

    तू हम को जो मिल जाए तो हाल अपना सुनाएं
    ख़ुद रोएं कभी और कभी तुझे रुलाएं
    वो दाग़ दिखाएं जो हमें तूने दिया है

  • Ruhani posted an update 2 months ago

    हम तुमसे दूर कैसे रह पाते,
    दिल से तुमको कैसे भूल पाते,
    काश तुम आईने में बसे होते,
    ख़ुद को देखते तो तुम नज़र आते। 😔

  • Ruhani posted an update 2 months ago

    Ek ajnabi se mujhe itna pyar kyun hain,
    Inkar karne par chahat ka ikraar kyun hain, Ose paana nahi meri takdeer mein shayed,
    Phir hr mod pa usi ka intezar kyun hain…

  • Ruhani posted an update 2 months ago

    मुझे भी अब नींद की तलब नहीं रही,
    अब रातों को जागना अच्छा लगता है,
    मुझे नहीं मालूम वो मेरी किस्मत में है या नहीं,
    मगर उसे खुदा से माँगना अच्छा लगता है।

  • Load More